पहले चेन स्नैचिंग करता, फिर माइकल जैक्सन की तरह डांस करते भाग जाता

Google+ Pinterest LinkedIn Tumblr +

आपने ट्रैफिक पुलिसकर्मी की ओर से डांस करते हुए ट्रैफिक कंट्रोल के बारे में पहले सुना होगा, लेकिन क्या किसी ऐसे शातिर के बारे में सुना है जो चेन स्नैचिंग को अंजाम देने के बाद माइकल जैक्सन की तरह डांस करते हुए भाग जाता हो. मामला झांसी के सीपरी बाजार थाने से जुड़ा है.

पुलिस ने तीन शातिर चेन स्नैचरों का गिरफ्तार किया है. इनका सरगना डांस टीचर रिंकू भदौरिया है. ब्रह्मनगर कॉलोनी का रहने वाला रिंकू भदौरिया 100 से ज्यादा चेन खींचने की घटनाओं को अंजाम देने की बात कबूल कर चुका है. पकड़े गए अन्य दो युवक विशाल खरे और गुड्डा सोनी हैं.

 

बताया जा रहा है कि 28 वर्षीय रिंकू भदौरिया के डांसर होने का पता चला तो पुलिस वालों ने उसे थाने में कई बार डांस करवाकर अपना मनोरंजन किया. रिंकू का थाने में डांस करते हुए वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया तो पुलिस ने सफाई दी कि रिंकू किस तरह चेन स्नैचिंग को अंजाम देता था, ये जानने के लिए उससे ऐसा करने को कहा गया. रिंकू ने पुलिस के सामने चेन स्नैचिंग की घटना का नाट्य रूपांतरण भी डांस के जरिए दिखाया.

कुछ दिन पहले झांसी के मिशन कंपाउंड क्षेत्र से एक महिला के गले से चेन खींचने की वारदात हुई थी. इस घटना के बाद एसएसपी के निर्देश पर पुलिस की ओर से चेन स्नैचर्स के खिलाफ मुहिम छेड़ दी गई. इसी दौरान रिंकू भदौरिया और उसके दो साथियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया.

रिंकू के मुताबिक, उसने 16-17 साल की उम्र में चेन स्नैचिंग शुरू कर दी थी. फिर मुंबई चला गया. रिंकू ने दावा किया कि छह साल तक उसने कोई वारदात नहीं की. लेकिन झांसी लौटा तो फिर चेन स्नैचिंग को अंजाम देना शुरू कर दिया.

सीपरी बाजार थाना के इंचार्ज गगन गौड़ के मुताबिक, रिंकू और उसके दोनों साथी 100 से अधिक चेन स्नैचिंग की घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं. ये चेन को गला कर सोना झांसी से बाहर जाकर बेच देते थे. गौड़ ने कहा कि जांच की जा रही है और जो लोग इनसे सोना खरीदते थे, उनके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

Share.

Leave A Reply