प्रो. सी.एल. खेत्रपाल ने अपने शोधों से  औषधि एवं चि​कित्सा क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन किये : सशक्त सिंह

Google+ Pinterest LinkedIn Tumblr +

3 फरवरी को आर्यकुल कालेज में व्याखान देंगें विश्वविख्यात वैज्ञानिक प्रो. सी.एल. खेत्रपाल

आर्यकुल ग्रुप आॅफ कालेज लखनऊ में आगामी 3 फरवरी, शनिवार को देश के विश्वविख्यात वैज्ञानिक प्रो. सी.एल. खेत्रपाल अपना व्याख्यान छात्रों के समक्ष प्रस्तुत करेंगे तथा छात्रों को एन.एम.आर., एम.आर.आई. एवं इनके अनुप्रयोगों के बारे में विस्तृत जानकारी साक्षा करेंगे। प्रो. सी.एल. खेत्रपाल जी देश के उन चुनिन्दा वैज्ञानिकों में से एक हैं जिन्होंने एन.एम.आर. के अनुप्रयोगों का न सिर्फ रसायन शास्त्र, जैव रसायन, औषधि रसायन में विस्तृत शोध किया है, बल्कि मनुष्यों में भी एम.आर.आई. एवं उसके अनुप्रयोगों को औषधि एवं चिकित्सा के क्षेत्र में एक क्रान्ति के रूप में दिया है।

संस्थान के प्रबन्ध निदेशक सशक्त सिंह जीने बताया कि प्रो. खेत्रपाल जी ने संस्थान में आकर छात्रों के समक्ष अपना व्याख्यान प्रस्तुत करने के लिए अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है। यह हमारे छात्रों का सौभाग्य है कि संस्थान में छात्रों के मध्य देश के विख्यात वैज्ञानिकों का आगमन हो रहा है। संस्थान के शोध निदेशक डा0 रविकान्त के अनुसार इस तरह के कार्यक्रम संस्थान में लगातार हो रहे है, जिसके द्वारा छात्र नित नवीन शोध, अनुसंधानों एवं उनके अनुप्रयोगो से परिचित हो सकें।

 डा0 रविकान्त ने बताया कि संस्थान के चैयरमैन श्री के.जी. सिंह जी का यह मत है कि इस तरह के ज्ञानवर्धक कार्यक्रमों के द्वारा देश एवं प्रदेश के विकास में युवाओं को जोडकर ही माननीय प्रधानमंत्री जी के ‘नये भारत‘ के सपनें को साकार कर सकते है। प्रबन्ध निदेशक सशक्त सिंह जी ने न सिर्फ आर्यकुल संस्थान के छात्रों को बल्कि अन्य संस्थानों के छात्रों एवं अध्यापकों को भी खुले दिल से इस ज्ञानवर्धक कार्यक्रम में आमंत्रित कर रहे है ताकि अन्य संस्थानों के छात्र भी अपना ज्ञानवर्धन कर सकें जिसके लिए छात्र कार्यक्रम कोआडिनेटर से सम्पर्क कर सकते है। श्री सिंह के अनुसार छात्र हमेशा सीखने की प्रवृत्ति रखें और जो कुछ कही से मिले उसे अपने अन्दर आत्मसात करें ताकि उनका व्यक्तिगत तथा समाज एवं देश का विकास हो सकें।

Share.

Leave A Reply